मेरी आवाज सुनो

मेरी आवाज़ ही पहचान है॥

88 Posts

766 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 1412 postid : 501

जल ही जीवन है इसे व्यर्थ न गवायें

  • SocialTwist Tell-a-Friend

water1

हम हर दिन मनाते हैं जैसे वेलेंटाइन हो या महिलादिन या फ़िर अन्य कोई महत्व के दिन।

तो आज का दिवस विश्व जल दिवस के रुप में मनाया जाता है।

22 मार्च यानी विश्व जल दिवस।

पानी बचाने के संकल्प का दिन।

पानी के महत्व को जानने का दिन और पानी के संरक्षण के विषय में समय रहते सचेत होने का दिन।

प्रकृति के ख़ज़ाने से हम जितना पानी लेते हैं हमारी ज़िम्मेदारी है कि उसका सदुपयोग करें।

सबसे पृथ्वी पर सभी प्राकृतिक संसाधनों के बीच सबसे आवश्यक पानी है|

पानी की एक बूंद प्यासे आदमी के लिए सोने की एक बोरी से अधिक मूल्य की है|

यदि हम में से हर एक को आज के लिए पानी को बचाने के प्रयास करें तभी हम बाद में बचत कर पायेंगे।

जल संरक्षण के लिए सबसे प्रभावी और पर्यावरण ध्वनि करने के लिए ग्लोबल वार्मिंग से लड़ने विधि है।

जल संरक्षण से ही हम पानी की कमी को कम कर सकते हैं।

जल संरक्षण अपने पीने के पानी की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद करता है|


आईये हम पानी को बचाने के लिए भी कुछ आसान उपाय देखें।

1) नल से पानी की रिसाव से बचें।विशेष रूप से बंद का उपयोग करें जब आप अपने दाँत ब्रश या कपड़े धोने में जब नल चालू नहीं रख़ें।

2) वर्षा से  जल संरक्षण  करें।

3)पानी की आपूर्ति के उन क्षेत्रों में जो असीमित पानी की आपूर्ति प्राप्त है में सीमित होना चाहिए.

4)शौचालयों में पानी की रिसाव की जाँच करें।

5)ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को इस का मूल्य समझायें।

6) मीडिया और दीवार पोस्टर के माध्यम से पानी के संरक्षण को बढ़ावा दें।

7) वह पानी का उपयोग करें जो फेंक दिया जाता है जो  पानी सड़कों जो बागवानी और सफाई के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है

8)कार या गाडी धोते समय नली के बजाय एक झाड़ू का या पोछे का उपयोग करना बहेतर होगा।


पानी को व्यर्थ न गवायें

जल ही जीवन है… इसे व्यर्थ न गवायें

| NEXT



Tags:

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (50 votes, average: 4.02 out of 5)
Loading ... Loading ...

17 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

pragati के द्वारा
June 7, 2013

quite good….

abodhbaalak के द्वारा
March 28, 2011

रज़िया जी पानी की अहमियत कोई हम लोगों से पूछे, अभी इंडिया गया था तो अभी से पानी की क्राइसिस, पानी बहार से लाना पड़ रहा है, पर क्या करें, कोई चारा भी नहीं है, अपना घर भी तो नहीं ….. एक बहुत ही विकराल समस्या पर लिखा आपका लेख, शायद अगला विश्व युद्ध अब पानी को ले कर ही …. http://abodhbaalak.jagranjunction.com

Harish Bhatt के द्वारा
March 23, 2011

रजिया जी सादर pranaam, बहुत ही बेहतरीन पोस्ट के लिए हार्दिक बधाई.

    razia mirza listenme के द्वारा
    March 23, 2011

    शुक्रिया हरीशजी |

Alka Gupta के द्वारा
March 23, 2011

आज के जल अभाव के संकट से बचने के लिए बहुत उपयोगी पोस्ट के लिए बधाई !

    razia mirza listenme के द्वारा
    March 23, 2011

    शुक्रिया अल्काजी आपकी कमेन्ट का|

nikhil के द्वारा
March 23, 2011

रजिया जी अभिवादन स्वीकार करे .. अभी हमारे देश में जल की समस्या की गंभीरता को समझा नहीं जा रहा है खासकर उत्तर भारत में पर अब जल संकट खतरनाक रूप लेता जा रहा है हमारी लापरवाही और प्राकृतिक मार से आने वाला समय इस संकट को भवयः रूप में सामने लायेगा …इसके लिए सरकारी प्रयास तो हो ही रहे है पर वे तबतक कारगर नहीं होंगे जबतक हम व्यक्तिगत रूप से इसे समझना और समाधान में योगदान देना नहीं शुरू करते … जैसे की आपने अपने लेख में और निशा जी ने भी अपने लेख में मुख्या तौर पर कहा है की व्यक्तिगत प्रयास जरुरी है … महत्वपूर्ण विषय पर लेख है बधाई

    razia mirza listenme के द्वारा
    March 23, 2011

    निखिलजी आपका कहना सही है ये प्रयत्न तबतक कारगर नहीं होंगे जबतक हम व्यक्तिगत रूप से इसे समझना और समाधान में योगदान देना नहीं शुरू करते …

    razia mirza listenme के द्वारा
    March 23, 2011

    जी हाँ जमाल साहब आज पानी की जो किल्लत हो रही है उसके लिए हम इंसान ही जिम्मेदार हैं| हमें ये सोचना जरूरी हो गया है की आगे हमें क्या क्या परेशानियों से गुजरना होगा? आपकी लिंक ने मुझे आप तक पंहुचा ही दिया |शुक्रिया कमेन्ट के लिए|

syeds के द्वारा
March 22, 2011

रज़िया जी, खूबसूरत लेख, जल बचाना आज के दौर में बहुत महतवपूर्ण है…जल ही जीवन है…अक्सर गर्मियों में तो बिलकुल त्राहि त्राहि मच जाती है…सर्दियों में भी समस्या कम नहीं…. http://syeds.jagranjunction.com

    razia mirza के द्वारा
    March 22, 2011

    शुक्रिया syed साहब आपकी कमेन्ट का|

allrounder के द्वारा
March 22, 2011

रजिया जी, नमस्कार जल संरक्षण दिवस पर जल की बर्बादी को कैसे रोका जाए ये हर नागरिक को मनन करके अपने स्तर पर जितना हो सके इस दिशा मैं योगदान करना चाहिए !

    razia mirza के द्वारा
    March 22, 2011

    सही कहते है आप | हर नागरिक को मनन करके अपने स्तर पर जितना हो सके इस दिशा मैं योगदान करना चाहिए !

vinita shukla के द्वारा
March 22, 2011

जल संरक्षण के प्रति जागरूक करता हुआ सार्थक लेख. बधाई रज़िया जी.

    razia mirza listenme के द्वारा
    March 22, 2011

    आभार सब से पहली प्रतिक्रिया के लिए विनीताजी|


topic of the week



latest from jagran